Success Story: पेशे से वकील बेतिया की दिशा ने जीता मिस बिहार का खिताब, जानिए सफलता की कहानी

0 37

Champaran News: वर्ष 2010 में बेतिया के सेंट टेरेसा गर्ल्स स्कूल से 10वीं करने के बाद दिशा ने आर्ट्स से इंटरमीडिएट किया. इसके बाद उन्होंने 2021 में मुजफ्फरपुर से एलएलबी की पढ़ाई पूरी की और वर्तमान में एडवोकेसी के क्षेत्र में कार्यरत हैं.

Success Story: पेशे से वकील बेतिया की दिशा ने जीता मिस बिहार का खिताब, जानिए सफलता की कहानी

पश्चिम चंपारण: कहते हैं कि अगर हौसले बुलंद हों तो दुनिया की कोई भी परेशानी आपका रास्ता नहीं रोक सकती है. कुछ ऐसा ही कर दिखाया है पश्चिम चंपारण जिले के बेतिया शहर स्थित हरिवाटिका चौक की रहने वाली दिशा ने. दरअसल दिशा ने 24 दिसम्बर 2022 को पटना में हुए ब्यूटी कॉन्टेस्ट में मिस बिहार का खिताब अपने नाम किया है. दिशा ने 2021 में मुजफ्फरपुर से एलएलबी का कोर्स पूरा किया और वर्तमान में एडवोकेट हैं. इसके साथ ही उन्होंने मॉडलिंग की दुनिया में भी अपने सपने को पूरा कर दिखाया है और पूरे बिहार से आए करीब 140 प्रतिभागियों को पीछे छोड़कर मिस बिहार का खिताब अपने नाम कर लिया है.

पटना के चाणक्या होटल में हुए इस वार्षिक प्रतियोगिता में आई ग्लैम की फाउंडर निर्देशिका देवजानी मित्रा, चीफ एग्जीक्यूटिव ऑफिसर शुभम कुमार तिवारी, चीफ ऑपरेटिंग ऑफिसर कामिनी कुमारी, ग्राफिक डिजाइनर अंश आर्य तथा स्टेट को-ऑर्डिनेटर अविनाश कुमार मौजूद थे.

एडवोकेट से जज का सफर तय करना चाहती हैं दिशा
वर्ष 2010 में बेतिया के सेंट टेरेसा गर्ल्स स्कूल से 10वीं करने के बाद दिशा ने आर्ट्स से इंटरमीडिएट किया. इसके बाद उन्होंने 2021 में मुजफ्फरपुर से एलएलबी की पढ़ाई पूरी की और वर्तमान में एडवोकेसी के क्षेत्र में कार्यरत हैं. अपने प्रोफेशन के साथ-साथ मॉडलिंग की दुनिया में अपने सपने को भी साकार करने के लिए उन्होंने काफी संघर्ष भी किया है. हालांकि उनका सफर सिर्फ यहीं खत्म नहीं हुआ है. वह आगे चलकर ज्यूडिशियरी की तैयारी कर खुद को जज के रूप में देखना चाहती हैं. साथ ही मॉडलिंग की दुनिया में भी खुद को इंटरनेशनल लेवल तक लेकर जाना चाहती हैं. दुर्भाग्य से बहुत पहले ही दिशा के पिता संदीप गुप्ता का स्वर्गवास हो गया. इसके बाद उनकी मां उषा देवी तथा बड़ी बहन उमंग ने उन्हें संभाला.

चार राउंड के बाद होता है विजेता का चयन
इसमें दिशा गुप्ता ने मिस बिहार तथा मिस ब्यूटीफुल स्माइल का खिताब अपने नाम कर लिया, साथ ही पटना के आर्यमन राज ने मिस्टर बिहार का खिताब अपने नाम किया.खिताब के लिए प्रतिभागियों को 4 राउंड से होकर गुजरना पड़ता है. सबसे पहले एथेनिक राउंड होता है, जिसमें प्रतिभागियों को वॉक के साथ-साथ इंट्रो से गुजरना पड़ता है. दूसरा राउंड टैलेंट शोइंग के नाम से जाना जाता है. जिसमें प्रतिभागियों को अपनी प्रतिभा को सबके सामने उजागर करना होता है.

तीसरा राउंड स्पोर्ट्स राउंड के नाम से जाना जाता है, जिसमें प्रतिभागियों को स्पोर्ट्स, योगा इत्यादि के साथ एक सामाजिक मोर्चे पर भी अपनी प्रतिभा दिखानी होती है. अंत में चौथा तथा आखिरी राउंड होता है, जिसे कॉकटेल राउंड के नाम से जाना जाता है. इसमें प्रतिभागियों को कॉकटेल ड्रेस में ही सवाल जवाब के राउंड से गुजरना होता है, जिसके बाद फाइनली विजेता की घोषणा होती है.

Leave A Reply

Your email address will not be published.