देश से माफी मांगे नुपुर शर्मा –सुप्रीम कोर्ट

0 17

पैगंबर मोहम्मद पर विवादित टिप्पणी के बाद भाजपा से निलंबित हो चुकीं प्रवक्ता नुपुर शर्मा के केस की शुक्रवार को सुप्रीम कोर्ट में सुनवाई हुई। इस दौरान कोर्ट ने नुपुर को कड़ी फटकार लगाई है। कोर्ट का कहना है कि नुपुर ने टीवी पर धर्म विशेष के खिलाफ उकसाने वाली टिप्पणी की है। उन्होंने देशभर में लोगों की भावनाएं भड़काई हैं और देशभर में जो कुछ भी हो रहा है, उसकी जिम्मेदार वह खुद हैं। उन्होंने देश की सुरक्षा के लिए खतरा पैदा किया है।
सुप्रीम कोर्ट का ये भी कहना है कि उदयपुर की घटना के लिए भी वह ही जिम्मेदार हैं। इसके लिए उनको पूरे देश से माफी मांगनी चाहिए। सुप्रीम कोर्ट की नुपुर शर्मा को फटकार लगाने के बाद लोगों की जबरदस्त प्रतिक्रिया देखने को मिल रही है। कुछ लोग कोर्ट के फैसले को सही ठहरा रहे हैं तो वहीं कुछ लोगों ने जज द्वारा कही गई बात पर कड़ी प्रतिक्रिया दी है। बॉलीवुड की बात करें तो फिल्म निर्देशक विवेक अग्निहोत्री की इस फैसले पर कड़ी प्रतिक्रिया आई है। वहीं विवेक अग्निहोत्री के बाद अनुपम खेर ने भी नुपुर शर्मा के पक्ष में अपनी बात रखी है।
अनुपम खेर ने अपने ट्विटर अकाउंट पर एक ट्वीट किया है। उन्होंने लिखा- जज साहब अपने सम्मान के लिए कुछ सम्मानजनक करिए। अभिनेता की इस टिप्पणी से जाहिर है कि उन्होंने सुप्रीम कोर्ट के लिए अपनी बात रखी है। वहीं विवेक अग्निहोत्री ने लिखा- ‘आज न्यायपालिका ने हमारा जीवन जीने का अधिकार छीन लिया है। अगर उसे कुछ हो जाता है, तो किसकी जुबान जिम्मेदार होगी’।
वहीं विवेक अग्निहोत्री के इस बयान के बाद भी लोगों के खूब रिएक्शन सामने आए हैं। दरअसल भाजपा की पूर्व प्रवक्ता नुपुर शर्मा ने एक टीवी डिबेट के दौरान पैगंबर मोहम्मद को लेकर आपत्तिजनक टिप्पणी की थी। नुपुर की बातों का कई मुस्लिम देशों ने विरोध किया था। हालांकि बाद में नुपुर शर्मा ने अपने बयान को लेकर माफी मांग ली थी।

बीजेपी ने पार्टी से कर दिया था निलंबित
बता दें कि नूपुर शर्मा बीजेपी की प्रवक्ता रही हैं। उन्होंने हाल ही में एक टीवी डिबेट में पैगंबर मोहम्मद के खिलाफ टिप्पणी की थी। इसका काफी विरोध हुआ था।यहां तक कि कुवैत, यूएई, कतर समेत तमाम मुस्लिम देशों ने उनके बयान की आलोचना की थी। इसके बाद बीजेपी ने नूपुर शर्मा को पार्टी से निलंबित कर दिया था। हालांकि उन्होंने अपनी टिप्णणी को लेकर माफी मांगी थी। साथ ही कहा था कि मैं अपने शब्द वापस लेती हूं। मेरी मंशा किसी को ठेस पहुंचाने की नहीं थी।

नूपुर शर्मा की पैगंबर मोहम्मद की टिप्पणी को लेकर देश के कई हिस्सों में प्रदर्शन हुआ था।इतना ही नहीं महाराष्ट्र समेत कई राज्यों में उनके खिलाफ मामले भी दर्ज कराए गए हैं। वहीं, नूपुर शर्मा ने सभी मामलों को दिल्ली ट्रांसफर करने की मांग को लेकर सुप्रीम कोर्ट में याचिका दाखिल की थी, जिसे खारिज कर दिया गया है. सुप्रीम कोर्ट ने उन्हें हाई कोर्ट जाने के लिए कहा है। बताया जा रहा है कि उन्होंने अपनी याचिका वापस ले ली है।

Leave A Reply

Your email address will not be published.