मिस्टर यू-टर्न’ कहे जाने वाले हो सकते हैं विपक्ष की ओर से राष्ट्रपति पद के उम्मीदवार, सरगर्मी हुई तेज

0 30

दिल्ली:- राष्ट्रपति चुनाव को लेकर राजनीतिक दलों में हलचल तेज़ हो गई है। देश के नए राष्ट्रपति का चुनाव (presidential election) 18 जुलाई को होना है। राष्ट्रपति चुनाव को लेकर विपक्षी दलों को एकजुट कर आम सहमति से एक उम्मीदवार उतारने पर मंथन चल रहा है. शरद पवार, फारुक अब्दुल्ला और महात्मा गांधी के पौत्र गोपाल कृष्ण गांधी के राष्ट्रपति चुनाव लड़ने से इनकार करने के बाद अब अचानक यशवंत सिन्हा का नाम चर्चा में आ गया है और कहा जा रहा है कि सिन्हा के नाम पर विपक्षी दल सहमत हैं। इसलिए विपक्षी दलों का यशवंत सिन्हा को अपना राष्ट्रपति चुनाव बनाना तय माना जा रहा है।

यशवंत सिन्हा के नाम की चर्चा तब शुरू हुई, जब उन्होंने राष्ट्रीय कार्य के नाम पर ममता बनर्जी की पार्टी तृणमूल कांग्रेस से इस्तीफा दे दिया। यशवंत सिन्हा ने ट्वीट कर सम्मान देने के लिए ममता बनर्जी का आभार भी व्यक्त किया। यशवंत सिन्हा के सियासी जीवन और केंद्रीय मंत्री के रूप में कार्यकाल की बात करें तो इनकी छवि ‘मिस्टर यू-टर्न’ की रही है।

यशवंत सिन्हा चंद्रशेखर और अटल बिहारी वाजपेयी के नेतृत्व वाली सरकारों में वित्त मंत्री रह चुके है यशवंत सिन्हा को भारतीय अर्थव्यवस्था से जुड़े कई महत्वपूर्ण फैसले लेने का श्रेय दिया जाता है और उनके वित्त मत्री रहते ही संसद में बजट पेश करने का समय शाम 5 बजे की जगह दिन में 11 बजे किया गया था। यशवंत सिन्हा ने वित्त मंत्री रहते अपनी ही सरकार के कुछ नीतिगत फैसलों को बदला भी था जिसकी वजह से उन्हें ‘मिस्टर यू-टर्न’ भी कहा जाता है।

Leave A Reply

Your email address will not be published.