जगदीप धनखड़ होंगे NDA के उपराष्ट्रपति पद के उम्मीदवार, जेपी नड्डा ने किया ऐलान

0 33

BJP Vice President Elections: देश के उपराष्ट्रपति को चुनने के लिए निर्वाचक मंडल में संसद के दोनों सदनों, लोकसभा और राज्यसभा के सदस्य शामिल होते हैं. राजग ने 2017 में उपराष्ट्रपति पद के लिए तत्कालीन केंद्रीय मंत्री नायडू को अपना उम्मीदवार बनाया था।

नई दिल्ली: पश्चिम बंगाल के राज्यपाल जगदीप धनखड़ राष्ट्रीय जनतांत्रिक गठबंधन (एनडीए) की ओर से उपराष्ट्रपति पद के उम्मीदवार होंगे। भाजपा संसदीय बोर्ड की बैठक में शनिवार को यह फैसला लिया गया। राजधानी स्थित पार्टी मुख्यालय में हुई इस बैठक में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी, भाजपा अध्यक्ष जे पी नड्डा, रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह, केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह, केंद्रीय मंत्री नितिन गडकरी और मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान सहित संसदीय बोर्ड के अन्य सदस्य मौजूद रहे।बैठक के बारे में जानकारी देते हुए पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा ने कहा, “उपराष्ट्रपति के उम्मीदवार के चयन के लिए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की अध्यक्षता में हुई संसदीय बोर्ड बैठक में सभी शामिल रहे। कई नामों पर चर्चा हुई। सभी नामों पर गौर करने के बाद हम इस नतीजे पर पहुंचे हैं कि हम अपने किसान पुत्र जगदीप धनखड़ जी का नाम आगे करते हैं। उन्होंने बहुत ही काम समय में राजस्थान हाई कोर्ट में एक प्रसिद्ध वकील के रूप में खुद को स्थापित किया था।वे पहली पीढ़ी के वकील हैं।”

10 अगस्त को समाप्त होगा वेंकैया नायडू का कार्यकाल

देश के उपराष्ट्रपति को चुनने के लिए निर्वाचक मंडल में संसद के दोनों सदनों, लोकसभा और राज्यसभा के सभी सदस्य शामिल होते हैं। संसद में सदस्यों की मौजूदा संख्या 780 है, जिनमें से केवल भाजपा के 394 सांसद हैं। जीत के लिए 390 से अधिक मतों की आवश्यकता होती है। मौजूदा उपराष्ट्रपति एम वेंकैया नायडू का कार्यकाल 10 अगस्त को समाप्त होगा।

अगले उपराष्ट्रपति के लिए मतदान छह अगस्त को

नामांकन पत्र दाखिल करने की अंतिम तिथि 19 जुलाई है और मतदान छह अगस्त को निर्धारित है। भाजपा ने राष्ट्रपति पद के चुनाव के लिए आदिवासी नेता द्रौपदी मुर्मू को उम्मीदवार बनाया है। यदि मुर्मू चुनाव जीत जाती हैं, तो वह देश की पहली आदिवासी राष्ट्रपति होंगी।एनडीए ने 2017 में उपराष्ट्रपति पद के लिए तत्कालीन केंद्रीय मंत्री नायडू को अपना उम्मीदवार बनाया था। भाजपा इस बार भी अपने उम्मीदवार की जीत सुनिश्चित करने के लिए मजबूत स्थिति में है।

Leave A Reply

Your email address will not be published.