लुब्रिकेंट आयल के नाम पर अवैध रूप से बिहार भेज रहे थे शराब

0 15
लुब्रिकेंट आयल के नाम पर अवैध रूप से बिहार भेज रहे थे शराब

वाहनों में इस्तेमाल होने वाले लुब्रिकेंट आयल के नाम पर अवैध रूप से बिहार शराब भेजने की कोशिश के आरोप में सेक्टर-31 थाना पुलिस ने दो आरोपितों को गिरफ्तार किया है। पकड़े गए आरोपितों में निखिल यहां शास्त्री कालोनी का रहने वाला है।

संवाददाता, फरीदाबाद: वाहनों में इस्तेमाल होने वाले लुब्रिकेंट आयल के नाम पर अवैध रूप से बिहार शराब भेजने की कोशिश के आरोप में सेक्टर-31 थाना पुलिस ने दो आरोपितों को गिरफ्तार किया है। पकड़े गए आरोपितों में निखिल यहां शास्त्री कालोनी का रहने वाला है। वहीं प्रिंस बिहार के मुजफ्फरपुर का रहने वाला है, वह यहां धीरज नगर में रहता है। सेक्टर-30 में लाजिस्टिक्स एजेंसी के सेल्स प्रबंधक ललित कुमार ने बताया कि उनकी एजेंसी सामान को एक से दूसरे राज्य में भेजने का काम करती है सोमवार सुबह निखिल और प्रिंस उनके पास आए। उन्होंने कहा कि उन्हें लुब्रिकेंट आयल की 45 पेटियां बिहार में एक कंपनी में पहुंचानी है। इसके संबंध में उन्होंने बिल भी दिखाया। ललित को उनके दिखाए बिल पर संदेह हुआ। उन्होंने पेटियां खोलकर देखी तो उसमें अंग्रेजी शराब की बोतलें भरी हुई थीं।

इस दौरान एजेंसी के अन्य कर्मचारियों ने दोनों आरोपितों को बातों में उलझाकर रखा और सेक्टर-31 थाना पुलिस को सूचना दे दी। सेक्टर-31 थाना प्रभारी विरेंद्र खत्री टीम के साथ मौके पर पहुंचे और आरोपितों को हिरासत में ले लिया। उन्होंने सभी पेटियां खोलकर देखी तो सभी में शराब की बोतलें रखी हुई थीं। आरोपितों ने पूछताछ में बताया कि बिहार में शराब बंद है, इसलिए वे फरीदाबाद से शराब खरीदकर बिहार भेजना चाहते थे, ताकि मोटा मुनाफा कमाया जा सके। आरोपित शराब कहां से लेकर आए थे और बिहार में उन्हें कहां और किसे शराब सप्लाई करनी थी, इसके बारे में पुलिस जांच कर रही है। आरोपितों के खिलाफ आबकारी अधिनियम की धाराओं के तहत मुकदमा दर्ज कर लिया है।

गौरतलब है कि बिहार में पूर्ण शराबबंदी है। इसी कारण से वहां पर शराब की बिक्री पर पूरी तरह बैन है। अगर कोई शराब को बेचता हुआ या फिर पीता हुआ पकड़ा गया तो वहां पर कानूनी कार्रवाई की जाती है। बिहार में अभी नकली शराब पीने के कारण हो रही मौतों को लेकर माहौल गरम है।

Leave A Reply

Your email address will not be published.