चंपारण : बाढ़ से सुरक्षा में लापरवाही हुई तो अधिकारियों पर होगी कार्रवाई : ममता राय

0 22

मोतिहारी। 

बाढ़ के दिनों में पूर्वी चंपारण की स्थिति काफी दयनीय हो जाती है लोगो को अपना घर छोड़ के सड़क और हाइवे पर गुजारा करना पड़ता है। इसी को देखते हुए। जिला परिषद अध्यक्ष ममता राय जिले में बाढ़ होने वाले नुक़सान और बाढ़ के समय सुरक्षात्मक उपाय करने के लिए गंभीर हैं। इसी क्रम में जिप अध्यक्ष ने आज बाढ़ से सुरक्षा विषय पर संबंधित विभाग के अधिकारियों के साथ बैठक की।

इस दौरान विभाग से संबंधित कार्यपालक अभियंताओ को दिशा-निर्देश दिए। उन्होंने अधिकारियों को दिशा-निर्देश देते हुए कहा कि बताया कि बरसात का समय निकट है और पूर्वी चम्पारण का अधिकांश भाग हमेशा बाढ़ से प्रभावित हो जाता है। जिससे आवागमन तो अवरूद्ध होता ही है, वहीं जान माल की भी हानी होती है। वैसे में सभी संबंधित पदाधिकारी बाढ़ से सुरक्षा संबंधित सभी तैयारियो को अचूक रूप से मूर्त रूप दें। अन्यथा लापरवाही बरतने पर जिम्मवारी निर्धारित करते हुए नियमानुसार कार्रवाई की जायेगी।

उन्होंने आगे कहा कि बाढ़ प्रभावित क्षेत्रो में कटाव रोकने, राहत सामाग्रियों तथा उपकरणों को सही स्थान पर एवं सही समय पर नहीं पहुंचाने वाले या इसमें कोताही करने वाले पर कार्रवाई की जायेगी। नहरों, नदियों के गादो की सफाई एवं जिर्णोद्धार के लिए संबंधित विभाग द्वारा राशि की मॉग करने पर जिला परिषद् के द्वारा राशि भी दी जायेगी। लेकिन बॉढ़ सुरक्षा के मामलों में कोई भी लापरवाही बरदास्त नहीं होगी।

मौके पर कार्यपालक अभियंता, बाढ़ नियंत्रण प्रमंडल, मोतिहारी, कार्यपालक अभियंता, जल निःसरण, पूर्वी चम्पारण, कार्यपालक अभियंता, सिकरहना तटबंध प्रमंडल, कार्यपालक अभियंता, लघु सिचाई प्रमंडल, पूर्वी चम्पारण, कार्यपालक अभियंता, गंडक कनाल, कार्यपालक अभियंता, त्रिवेणी नहर प्रमंडल, कार्यपालक अभियंता, त्रिवेणी नहर प्रमंडल, ढ़ाका, कार्यपालक अभियंता, घोड़ासहन नहर प्रमंडल, रक्सौल, कार्यपालक अभियंता, तिरहुत नहर प्रमंडल, चकिया आदि अधिकारी मौजूद थे।

Leave A Reply

Your email address will not be published.