मुलायम और अखिलेश यादव से मिलने के बाद बोले नीतीश कुमार, आगे यूपी का नेतृत्व करेंगे अखिलेश

0 14

दिल्ली: बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार दिल्ली दौरे पर हैं। विपक्षी एकता की मुहिम के तहत मंगलवार को उन्होंने यूपी के पूर्व मुख्यमंत्री मुलायम सिंह यादव और उनके बेटे अखिलेश यादव से मुलाकात की। मुलाकात बाद मुख्यमंत्री ने मीडिया के सवालों का जवाब देते हुए कहा कि सबकों मिलकर आगे बढ़ना है। उन्होंने अखिलेश यादव को लेकर कहा कि अखिलेश आगे यूपी का नेतृत्व करेंगे।

बता दें कि इससे पूर्व हरियाणा के पूर्व मुख्यमंत्री ओमप्रकाश चौटाला से भी नीतीश मिले थे। गुरुग्राम स्थित उनके आवास पर पहुंचे मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने भेट स्वरूप उन्हें गुलदस्ता सौंपा। ओमप्रकाश चौटाला ने भी मुख्यमंत्री नीतीश कुमार का स्वागत किया। इस दौरान दोनों नेताओं को बीच घंटों बातचीत भी हुई। BJP से अलग होने के फैसले का ओमप्रकाश चौटाला ने स्वागत किया।

नीतीश कुमार ने कहा कि ओमप्रकाश चौटाला से संबंध बहुत पुराना है। इनके प्रति सम्मान का भाव है। जब हम बीजेपी से अलग हो गए तब ओमप्रकाश चौटाला ने फोन करके कहा था कि ठीक किए हो। दिल्ली यहां आए तो उनसे मिलने गुरुग्राम आ गए। मंगलवार को दोनों नेताओं की मुलाकात हुई। मुलाकात के बाद नीतीश कुमार ने कहा कि ओम प्रकाश चौटाला ने बीजेपी से अलग होने के मेरे फैसले को अच्छा बताया है।

बता दें कि मिशन 2024 को लेकर मुख्यमंत्री नीतीश कुमार विपक्षी पार्टियों के नेताओं को एकजुट करने के मिशन पर निकले हैं। सोमवार को उन्होंने कांग्रेस नेता राहुल गांधी एवं कर्नाटक के पूर्व सीएम एचडी कुमारास्वामी से मुलाकात की थी। वहीं आज उन्होंने दिल्ली के सीएम अरविंद केजरीवाल, मार्क्‍सवादी कम्‍युनिस्‍ट पार्टी (CPM) के नेता सीताराम येचुरी, भारतीय कम्‍युनिस्‍ट पार्टी (CPI) के डी राजा से भी मिले।

बता दें कि एनडीए से नाता तोड़ने के बाद नीतीश महागठबंधन में शामिल हो गये। जिसके बाद बिहार में महागठबंधन की नई सरकार बनीं जिसमें वे खुद मुख्यमंत्री बने और तेजस्वी यादव डिप्टी सीएम बनाए गये। महागठबंधन की सरकार बिहार में बनने के बाद अब नीतीश बीजेपी व पीएम मोदी के खिलाफ मजबूत विपक्ष के मिशन पर निकल पड़े हैं।

इसी को लेकर उनका दिल्ली दौरा भी है। उन्होंने कहा कि सभी क्षेत्रीय पार्टियां,वाम दल व कांग्रेस के एक साथ आने से बड़ा फर्क पड़ेगा। नीतीश ने कहा कि बीजेपी से नाता तोड़कर हमने बहुत अच्छा काम किया है। उन्‍होंने यह भी कहा कि प्रधानमंत्री पद के न तो वे उम्मीदवार हैं, न ऐसी कोई दावेदारी है। वे तो केवल विपक्ष को जोड़ने की कोशिश कर रहे हैं।

हरियाणा के पूर्व सीएम ओमप्रकाश चौटाला से मुलाकात के पहले मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने दिल्ली के सीएम अरविंद केजरीवाल से मुलाकात की। इससे पहले मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने दिल्ली में सीपीआई(एम) के कार्यालय गये जहां सीताराम येचुरी से भी मिले। इस मुलाकात के दौरान सीएम नीतीश विपक्ष को एकजुट करने की कोशिश कर रहे हैं। शायद इसी उद्धेश्य को लेकर वे विपक्ष के नेताओं से लगातार मिल भी रहे हैं।

Leave A Reply

Your email address will not be published.