बिहार में 700 ट्रेनें रद्द, 20 जिलों में इंटरनेट सेवा बंद, लोगों को हो रही है परेशानी

0 80

पटना:-सेना में भर्ती को लेकर हाल ही में केंद्र ने अग्निपथ योजना (Agnipath Scheme) की घोषणा की थी। इसको लेकर पूरे देश में विरोध प्रदर्शन चल रहा है। खास कर बिहार में सबसे ज्यादा हिंसक प्रदर्शन देखने को मिला। पुलिस को लाठीचार्ज तक करनी पड़ी है। वहीं इन विरोध प्रदर्शनों के बीच इसका असर ट्रेन परिचालन और इंटरनेट सेवा पर भी पड़ा है। बिहार में अग्निपथ योजना के घोषणा के बाद खराब विधि व्यवस्था के मद्देनजर रेलवे ने सोमवार को करीब 350 ट्रेनें जो बिहार में चलती है और साथ में 350 ट्रेनें जो बिहार से होकर गुजरती हैं उन सभी ट्रेनों को  नहीं चलाने का निर्णय लिया है। साथ ही 20 जिलों में इंटरनेट सेवा सोमवार को भी बंद रहेगी।   

वहीं अपने सत्ता में सहयोगी भाजपा की आलोचना के बाद नीतीश कुमार सरकार ने एसएसबी के अर्ध सैनिक बलों को भाजपा के 11 दफ़्तरों में तैनात किया है। बता दें कि बिहार में जगह-जगह हुए प्रदर्शनों में बीजेपी नेताओं और उनके कार्यालयों को भी निशाना बनाया गया था। तोड़-फोड़ की घटनाएं भी सामने आ रही थीं।

सरकार ने मंगलवार को अग्निपथ योजना की शुरुआत करते हुए कहा था कि साढ़े सत्रह साल से 21 साल तक की आयु के युवाओं को चार साल के कार्यकाल के लिए शामिल किया जाएगा, जबकि उनमें से 25 प्रतिशत को बाद में नियमित सेवा में शामिल किया जाएगा। नई योजना के तहत भर्ती होने वाले युवाओं को ‘अग्निवीर’ कहा जाएगा। कोरोना वायरस महामारी के कारण दो साल से अधिक समय से सेना में रुकी हुई सारी भर्ती प्रक्रियाओं को रद्द करते हुए। अब अग्निपथ नाम से नयी योजना की घोषणा की गयी है। जिसके तहत ही सेना में बहाली की जाएगी।

Leave A Reply

Your email address will not be published.